त्वरण किसे कहते हैं? त्वरण के प्रकार, सूत्र, मात्रक, परिभाषा what is acceleration in hindi

इस लेख में त्वरण(twaran) के बारे में बताया गया है। त्वरण किसे कहते हैं?, त्वरण की परिभाषा, त्वरण का मात्रक, त्वरण के प्रकार क्या और कितने है। अन्य सवालों जैसे what is acceleration in hindi, acceleration kya hai

त्वरण किसे कहते हैं? क्या है?

त्वरण क्या है, किसे कहते हैं? जैसे सवालों का जवाब यहां दिया गया है। What is acceleration in Hindi (Physics)

प्रकृति में होने वाली विभिन्न गतियो या कार्यों में त्वरण होता है, सामान्य शब्दों में जब कोई वस्तु या पिंड गति कर रहा हो तो विभिन्न भौतिक कारणों से उसके वेग में परिवर्तन होता है इसे है त्वरण कहते हैं।

त्वरण की परिभाषा (Definition of Acceleration) :-

Twaran Ki Paribhasha kya hai:-

“किसी वस्तु के वेग में परिवर्तन की दर को त्वरण कहते हैं।”

  • यह एक सदिश राशि है।
  • इसकी दिशा वेग परिवर्तन की दिशा होती है।

त्वरण का SI मात्रक :-

मीटर/सेकण्ड2 (m/s2)

त्वरण का मात्रक (C.G.S.) :-

Twaran ka Matrak C.G.S पद्धति में –

सेंटीमीटर/सेकण्ड2 (cm/s2)

त्वरण का सूत्र (Formula of Acceleration) :-

a= वेग में परिवर्तन/समय में परिवर्त

a = dv/dt

त्वरण की विमा(विमीय सूत्र) :-

[M0L1T-2]

.

त्वरण के प्रकार (Type of Acceleration in hindi)

यहां पर त्वरण के प्रकार कितने है, उन सभी के बारे में यहां पर बताया गया हैं।

(1) एकसमान त्वरण :-

एकसमान त्वरण किसे कहते हैं और इसकी परिभाषा क्या है। यह सभी यहां उल्लेखित है।

‘ जब एक गतिशील कण के त्वरण का परिमाण तथा दिशा दोनों नियत रहे इसे ही एकसमान त्वरण कहते है।’

Note:-

  • जब कोई कण एक समान त्वरण से गतिमान हो तो उसका पथ सरल रेखीय अथवा परवलायाकार हो सकता हैं
  • यदि कोई कण विराम अवस्था से नियत त्वरण के अन्तर्गत गति प्रारम्भ करता है तो उसका पथ सरल रेखीय होता है।
  • जब कोई कण सरल रेखा में एक समान चाल से गतिमान हो तो त्वरण क्रियाशील नहीं होता हैं।
  • जब कण वक्रीय पथ पर एक समान चाल से गतिमान हो तो उस पर Twaran क्रियाशील होता है।

(2) असमान त्वरण :-

जब गतिशील कण के त्वरण का परिमाण अथवा दिशा अथवा दोनों परिवर्तित हो तब कण का त्वरण परिवर्ति त्वरण कहलाता हैं।

(3) औसत त्वरण (Average Acceleration) :-

किसी वस्तु के एकांक समय में कुल वेग में परिवर्तन को औसत त्वरण कहते हैं।

∆aav = ∆v/∆t = v2 – v1/t2 – t1

(4) तात्क्षणिक त्वरण (Instantaneous Acceleration): –

किसी निश्चित समय या क्षण पर वस्तु के Twaran को तात्क्षणिक त्वरण कहते है।

(5) गुरूत्वीय त्वरण (Gravitational acceleration in hindi) :-

गुरूत्वीय त्वरण किसे कहते हैं :-

पृथ्वी का वस्तुओं पर आकर्षण बल, गुरुत्व बल कहलाता है। इस गुरुत्व बल के कारण वस्तु में त्वरण उत्पन्न होता है जिसे गुरूत्वीय त्वरण कहते है।

इसे g द्वारा प्रदर्शित किया जाता है।

g का मान :- 9.8 मीटर/सेकण्ड2

गति के समीकरण :-

  1. v = u – gt
  2. h = ut – 1/2 gt2
  3. V2 = u2 – 2gh

(6) कोणीय त्वरण (angular acceleration) :-

किसी पिंड या वस्तु के कोणीय वेग में परिवर्तन की दर को कोणीय त्वरण (angular acceleration in Hindi) कहते है।

कोणीय त्वरण का सूत्र :-

a = dw/dt

यह भी पढ़े :-

✓• गति किसे कहते हैं? परिभाषा

✓• वेग व चाल किसे कहते हैं।

✓• दूरी एवं विस्थापन किसे कहते हैं? परिभाषा

त्वरण से संबंधित महत्वपूर्ण तथ्य

  • त्वरण धनात्मक, शून्य, अथवा ऋणात्मक हो सकता है। धनात्मक Twaran का तात्पर्य है कि वेग, समय के साथ बढ़ रहा है।
  • शून्य त्वरण का तात्पर्य है कि वेग नियत है जबकि ऋणात्मक त्वरण का अर्थ है कि वेग समय के साथ कम हो रहा है। ऋणात्मक त्वरण को मंदन कहते है।
  • गुरूत्वीय त्वरण की दिशा सदैव नीचे की ओर होती है।
  • जब केवल दिशा परिवर्तित हो इस स्थिति में tvran वेग के लंबवत होता है।

प्रश्न.1. त्वरण का SI मात्रक क्या है?

उतर :- मीटर/वर्ग सेकण्ड (m/s2)

प्रश्न.2. मंदन किस प्रकार के त्वरण को कहते हैं?

उत्तर:- सदैव ऋणात्मक त्वरण को मंदन कहा जाता है ।

प्रश्न.3. किसी पिंड का त्वरण कब शून्य होता है?

उतर :- जब किसी पिंड या वस्तु का प्रारम्भिक वेग और अंतिम वेग समान हो ।

प्रश्न.4. केन्द्राभिमुख त्वरण क्या है?

उतर :- पृथ्वी अथवा किसी पिंड के केंद्र की दिशा में होने वाले त्वरण को कहते है।

प्रश्न.5. गुरुत्वीय त्वरण का मात्रक क्या है?

उतर :- ‘g’ मात्रक m/s2

यदि आपको यह लेख त्वरण किसे कहते हैं? त्वरण के प्रकार, सूत्र, मात्रक, परिभाषा what is acceleration in hindi पसंद आया तो अपने मित्रो के साथ शेयर करे।